गिल का शतक, भारत ने इंग्लैंड को 399 रन का दिया लक्ष्य

विशाखापत्तनम. भारतीय बल्लेबाजों ने एक बार फिर इंग्लैंड को वापसी का मौका दिया लेकिन इसके बावजूद मेहमान टीम को दूसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन रविवार को यहां रिकॉर्ड 399 रन का लक्ष्य मिला जिसके जवाब में उसने एक विकेट पर 67 रन बना लिए हैं.
हैदराबाद में श्रृंखला के पहले टेस्ट की तरह भारत के पास एक बार फिर अपनी बल्लेबाजी से इंग्लैंड को मैच से बाहर करने का मौका था लेकिन शुभमन गिल (147 गेंद में 104 रन) के शतक के बावजूद भारत दूसरी पारी में 255 रन पर सिमट गया. मेजबान टीम ने अपने अंतिम छह विकेट 44 रन पर गंवाए.

लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाजों जैक क्राउली (नाबाद 29) और बेन डकेट (28) ने पहले विकेट के लिए 11 ओवर के भीतर 50 रन जोड़कर इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलाई. ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (आठ रन पर एक विकेट) ने डकेट को विकेटकीपर कोना भरत के हाथों कैच कराके इस साझेदारी को तोड़ा. दिन का खेल खत्म होने पर रात्रि प्रहरी रेहान अहमद नौ रन बनाकर क्राउली का साथ निभा रहे थे. इंग्लैंड को जीत के लिए अब भी 332 रन की दरकार है.

पिच बल्लेबाजी के लिए मुश्किल नहीं हैं लेकिन कुछ गेंद नीची रह रही हैं. इंग्लैंड को हालांकि श्रृंखला में 2-0 की बढ़त बनाने के लिए रिकॉर्ड लक्ष्य मिला है. वेस्टइंडीज ने दो साल पहले बांग्लादेश में 395 रन बनाकर जीत दर्ज की थी जो एशिया में सबसे बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत है. भारतीय टीम दूसरी पारी में एक समय चार विकेट पर 211 रन बनाकर काफी अच्छी स्थिति में थी लेकिन निचले क्रम ने एक बार फिर निराश किया.

दूसरी पारी में गिल ने खराब फॉर्म से उबरते हुए शतक जड़ा. उन्होंने अक्षर पटेल (84 गेंद में 45 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिए 89 रन जोड़े लेकिन इस साझेदारी के टूटने के बाद भारतीय पारी को सिमटने में अधिक वक्त नहीं लगा. चाय के बाद रेहान अहमद (88 रन पर तीन विकेट) ने पहले ही ओवर में भरत (06) को पवेलियन भेजा जिन्होंने मिड ऑन पर बेन स्टोक्स को कैच थमाया.

टॉम हार्टले (77 रन पर चार विकेट) के अगले ओवर में कुलदीप यादव (00) गेंद को हवा में लहराकर डकेट को आसान कैच दे बैठे.
जसप्रीत बुमराह 26 गेंद तक टिके रहे लेकिन खाता खोले बिना हार्टले का चौथा शिकार बने. रेहान ने अश्विन (29) को विकेटकीपर बने फोक्स के हाथों कैच कराके भारत की पारी का अंत किया. तीसरे दिन शुरुआत में जूझने के बाद गिल ने अपना तीसरा टेस्ट शतक पूरा किया. अक्षर भी अच्छी लय में नजर आए.

गिल ने लंच से पहले अपना अर्धशतक पूरा किया और स्पिनरों के खिलाफ आक्रामक रवैया अपनाया. लेग स्पिनर रेहान ने राउंड द विकेट गेंदबाजी की रणनीति अपनाई लेकिन गिल ने उन पर सीधा छक्का जड़ा और फिर इसी ओवर में लगातार दो चौके मारे. गिल ने शोएब बशीर के पारी के 52वें ओवर में शतक पूरा किया. वह पिछली 13 पारियों में पहली बार 50 रन के आंकड़े को पार करने में सफल रहे.

गिल हालांकि शतक पूरा करने के बाद बशीर की गेंद पर रिवर्स स्वीप खेलने की कोशिश में पवेलियन लौटे. गेंद गिल के ग्लव्स से टकराकर हवा में उछली और विकेटकीपर बेन फोक्स ने आसान कैच लपका. गिल ने अपनी पारी में 11 चौके और दो छक्के मारे.
अक्षर भी इसके बाद हार्टले की सीधी गेंद को चूककर पगबाधा हो गए.

इससे पहले सुबह के सत्र में जेम्स एंडरसन (29 रन पर दो विकेट) ने दो विकेट चटकाकर इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलाई. भारत ने दिन की शुरुआत बिना विकेट खोए 28 रन से की. टीम ने सुबह के सत्र में 102 रन जोड़े लेकिन कप्तान रोहित शर्मा (12), यशस्वी जायसवाल (17), श्रेयस अय्यर (29) और रजत पाटीदार (09) के विकेट गंवाए.

सुबह के सत्र में शुरुआती 30 मिनट एंडरसन के नाम रहे. उन्होंने दिन के अपने पहले ओवर में हल्की सी बाहर की ओर मूव होती गेंद पर रोहित का ऑफ स्टंप उखाड़ा. इस 41 वर्षीय तेज गेंदबाज ने अगले ओवर में पहली पारी में दोहरा शतक जड़ने वाले जायसवाल को पहली स्लिप में जो रूट को कैच कराया.

खराब फॉर्म से जूझ रहे गिल और अय्यर ने 112 गेंद में 81 रन जोड़कर पारी को संभाला. गिल के अंदर शुरुआत में हिचक दिखी और एंडरसन ने उन्हें काफी परेशान किया. उन्हें हार्टले की गेंद पर मैदानी अंपायर ने पगबाधा दिया लेकिन डीआरएस लेने पर उन्हें फैसला बदलना पड़ा क्योंकि गेंद पैड पर लगने से पहले बल्ले से टकराई थी. अगले ओवर में एंडरसन ने उनके खिलाफ पगबाधा की विश्वसनीय अपील की लेकिन मैदानी अंपायर ने उन्हें आउट नहीं दिया और इस बार विरोधी टीम के डीआरएस लेने पर वह ‘अंपायर्स कॉल’ के कारण बच गए.

गिल इसके बाद लय में आ गए. उन्हेंने लेग स्पिनर रेहान अहमद पर लगातार दो चौकों के साथ अर्धशतक पूरा किया. अय्यर ने भी दूसरे छोर पर कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन हार्टले की गेंद पर बेन स्टोक्स ने मिड ऑफ से पीछे की ओर भागते हुए उनका शानदार कैच लपककर उनकी पारी का अंत किया. पदार्पण कर रहे पाटीदार ने रेहान की गेंद पर विकेटकीपर बेन फोक्स को कैच थमाया.

Related Articles

Back to top button