केरल: ‘हाथ काटने’ की टिप्पणी को लेकर मुस्लिम संगठन की युवा इकाई के नेता के खिलाफ मामला दर्ज

मलप्पुरम. केरल में एक मुस्लिम संगठन की युवा इकाई के एक नेता द्वारा हाल में ‘हाथ काटने’ की विवादास्पद टिप्पणी करने को लेकर यहां उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि समस्त केरल जमीयत-उल उलेमा की छात्र इकाई समस्त केरल सुन्नी स्टूडेंट्स फेडरेशन (एसकेएसएसएफ) के नेता सत्तार पंथालूर के विवादास्पद बयान को लेकर उनके खिलाफ शनिवार को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से उकसाना) के तहत एक मामला दर्ज किया गया.

समस्त केरल जमीयत-उल उलेमा, प्रख्यात सुन्नी विद्वानों का एक संगठन है. इसे केरल के मुसलमानों के बीच काफी समर्थन प्राप्त है.
पुलिस ने बताया कि यह कार्रवाई मलप्पुरम के पुलिस अधीक्षक को एक व्यक्ति द्वारा भेजी गई शिकायत के आधार पर की गई.
शिकायत के अनुसार, पंथालूर का बयान विभिन्न समूहों के लोगों के बीच हिंसा भड़का सकता है. पंथालूर ने यहां एक हालिया कार्यक्रम में उन लोगों के हाथ काटने की चेतावनी दी थी जो समस्त केरल जमीयत-उल उलेमा के विद्वानों की आलोचना करते हैं और उनके लिए मुश्किलें पैदा करते हैं.

उन्होंने कहा था, ”एसकेएसएसएफ के कार्यकर्ता उस किसी भी व्यक्ति का हाथ काटने के लिए आगे आएंगे जो समस्त के विद्वानों और उस्तादों के लिए मुश्किलें पैदा करेंगे.” पंथालूर की विवादास्पद टिप्पणी, समस्त और इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) के विद्वानों के एक वर्ग के बीच असहमति बढ.ने की खबरों के मद्देनजर आई थी. आईयूएमएल, कांग्रेस नीत यूडीएफ में दूसरा सबसे बड़ा गठबंधन साझेदार है.

Related Articles

Back to top button